04 मई 2010

राजनैतिक हारमोन

              

                                    -डॉ० डंडा लखनवी  



देखते     ही    देखते    वो,
एक    फ्लावर   हो   गए।

सिर्फ़ हम ही   क्या  सभी
उनपे  निछावर  हो गए।।

राजनैतिक       हारमोनों
का   असर  तो     देखिए-

आदमी   पहले   थे   अब-
मोबाइल  टावर हो  गए।।

6 टिप्‍पणियां:

आपकी मूल्यवान टिप्पणीयों का सदैव स्वागत है......